सोमवार, 24 फ़रवरी 2014

मेरी पहली किताब ‘ग़ज़ल कहनी पड़ेगी झुग्गियों पर’ का विमोचन

आप सबको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि मेरी पहली किताब ‘ग़ज़ल कहनी पड़ेगी झुग्गियों पर’ का विमोचन दिनांक 22-02-2014 को सत्य प्रकाश मिश्र सभागार, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय क्षेत्रीय केन्द्र, इलाहाबाद में हुआ। समारोह की तस्वीरें निम्नवत  हैं। जिन मित्रों को ये ग़ज़ल संग्रह चाहिए वे कृपया अपना डाक का पता मुझे dkspoet@gmail.com पर भेज दें।













5 टिप्‍पणियां:

  1. भव्य कार्यक्रम देखकर प्रसन्नता हुई। लोकार्पण की हार्दिक शुभकामनाएँ। साहित्य के संवेदनशील प्रगतिपथ पर निरंतर बढ़ते रहें। सफल रहें।

    उत्तर देंहटाएं
  2. सर्प्रथम अपना पहला काव्य संग्रह ‘ग़ज़ल कहनी पड़ेगी झुग्गियों पर’ प्रकाशित होने पर मेरी मेरी व् मेरी संस्था की ओर से आपका हार्दिक अभिनन्दन।

    विस्वाश है कि ये काव्य संग्रह ,काव्य जगत में आपको स्थापित करने में मील का पत्थर साबित होगा। गोपाल राय

    उत्तर देंहटाएं

जो मन में आ रहा है कह डालिए।